PM-STIAC

Bali Declaration and Rohingya issue
May 20, 2019
2+2 Dialogue
May 21, 2019

PM-STIAC

केंद्र सरकार ने विज्ञान, प्रौद्योगिकी और नवाचार पर 21 सदस्यीय सलाहकार पैनल का गठन किया है जिसे प्रधान मंत्री विज्ञान, प्रौद्योगिकी और नवाचार सलाहकार परिषद (PM-STIAC) ​​कहा जाता है। इसकी अध्यक्षता सरकार के प्रमुख वैज्ञानिक सलाहकार के विजय राघवन करेंगे। यह प्रधान मंत्री और मंत्रिमंडल के लिए पहले वैज्ञानिक सलाहकार समिति का स्थान लेगा।

The Central Government has formed a 21-member advisory panel on science, technology and innovation called Prime Minister Science, Technology and Innovation Advisory Council (PM-STIAC). It will be chaired by Vijay Raghavan of the Chief Scientific Advisor of the Government. This will replace the first Scientific Advisory Committee for the Prime Minister and the Cabinet.

यह परिषद विज्ञान, प्रौद्योगिकी, साथ ही नवाचार पर पीएम को सलाह देगी। यह पीएम वैज्ञानिक दृष्टि के कार्यान्वयन का समन्वय भी करेगा। यह प्रमुख विज्ञान और प्रौद्योगिकी मिशनों के निर्माण और समय पर कार्यान्वयन में सक्रिय रूप से सहायता करेगा और अंतःविषय प्रौद्योगिकी विकास कार्यक्रमों को विकसित करेगा। यह सरकार को शहर आधारित आर एंड डी क्लस्टर सहित विज्ञान में ‘क्लस्टर्स ऑफ एक्सीलेंस’ विकसित करने की सलाह देगा। यह ऐसे केंद्रों या शहरों के पास के उद्योगों और संस्थानों से सभी विज्ञान और प्रौद्योगिकी भागीदारों को एक साथ लाने का काम करेगा।

This council will advise the PM on science, technology, as well as innovation. This PM will also coordinate the implementation of scientific vision. It will actively assist in the formation and timely implementation of major science and technology missions and develop interdisciplinary technology development programs. It will advise the government to develop 'clusters of excellence' in science, including city-based R & D cluster. It will work to bring together all science and technology partners from industries and institutions near such centers or cities.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

0