Mauritius tops India’s FDI charts

Fiscal Deficit
May 27, 2019
Public Credit Registry (PCR)
May 29, 2019

Mauritius tops India’s FDI charts

भारतीय रिज़र्व बैंक (RBI) के आंकड़ों के अनुसार, सिंगापुर के बाद मॉरीशस 2017-18 में भारत में प्रत्यक्ष विदेशी निवेश (FDI) का शीर्ष स्रोत था। वित्त वर्ष 2018 में, कुल एफडीआई 37.36 बिलियन डॉलर रहा जो पिछले वित्त वर्ष 2016-17 से (36.31 बिलियन डॉलर) से अधिक था

According to the Reserve Bank of India (RBI) data, after Singapore, Mauritius was the top source of FDI in India in 2017-18. In FY2018, the total FDI was $ 37.36 billion, more than the previous financial year 2016-17 ($ 36.31 billion).

2017-18 में मॉरीशस से एफडीआई $ 13.41 बिलियन था जबकि पिछले वर्ष 13.38 बिलियन डॉलर था। सिंगापुर से एफडीआई प्रवाह 6.52 बिलियन डॉलर से बढ़कर 9.27 बिलियन डॉलर हो गया। नीदरलैंड से एफडीआई 3.23 बिलियन डॉलर से घटकर 2.67 बिलियन डॉलर रह गया।

FDI from Mauritius was $ 13.41 billion in 2017-18, compared to $ 13.38 billion last year. FDI inflows from Singapore increased from $ 6.52 billion to $ 9.27 billion. FDI from the Netherlands decreased from $ 3.23 billion to $ 2.67 billion.

विनिर्माण क्षेत्र में, प्रत्यक्ष विदेशी निवेश में 7.06 बिलियन डॉलर की पर्याप्त गिरावट देखी गई, जबकि एक साल पहले यह 11.97 बिलियन डॉलर थी। संचार सेवाओं में एफडीआई 2017-18 में 5.8 बिलियन डॉलर से बढ़कर 8.8 बिलियन डॉलर हो गया था। खुदरा और थोक व्यापार में एफडीआई 2.47 बिलियन डॉलर के मुकाबले बढ़कर 4.47 बिलियन डॉलर हो गया।

In the manufacturing sector, there was a substantial decline of $ 7.06 billion in direct foreign investment, compared to $ 11.97 billion a year ago. FDI in communications services increased from $ 5.8 billion in 2017-18 to $ 8.8 billion. In retail and wholesale trade, FDI increased to $ 4.47 billion compared to $ 2.47 billion

वित्तीय सेवाओं में एफडीआई में भी पिछले वर्ष के 3.73 बिलियन डॉलर से 4.07 बिलियन डॉलर की वृद्धि देखी गई। इन क्षेत्रों में 2017-18 में $ 37.36 बिलियन के कुल एफडीआई का 50% से अधिक का हिस्सा था, ऑनलाइन मार्केटप्लेस और वित्तीय प्रौद्योगिकियों सहित नए क्षेत्रों में वैश्विक रुचि को दर्शाता है।

FDI in financial services also increased by $ 3.73 billion last year to $ 4.07 billion. These sectors were part of more than 50% of total FDI of $ 37.36 billion in 2017-18, reflecting global interest in new areas including online marketplace and financial technologies

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

0